इंदोर मे पढाई करने वाले दो छात्रो ने दिया था खजूरी इलाके मे लूट की वारदात को अंजाम गर्लफ्रेंड को घुमाने के लिये लूटी थी मोटर साइकिल
April 13, 2019 • Yogesh Sharma

 खजूरी से लेकर इंदोर तक 150 सीसीटीवी कैमरो के फुटेज खंगालने पर हाथ लगे आरोपियो के सुराग
शहडोल के रहने वाले है लुटेरे, इंदौर में रहकर पढ़ाई करते है दोनो आरोपी
भोपाल। राजधानी पुलिस ने करीब एक माह पहले खजूरी थाना इलाके मे अपनी गर्भवती बहन को मॉ के साथ अस्पताल लेकर जा रहे यूवक के साथ मारपीट कर उसकी बाईक लूटने वाले दो बदमाशो को दबोच लिया है। बताया गया है कि दोनो आरापी शहडोल के रहने वाले हे, जो इंदौर मे रहकर पढाई करते है, हैरानी वाली बात यह है की आरोपियो ने बाईक लूट की वारदात को अंजाम इसलिये दिया था की उन्हे अपनी गर्लफ्रैंड को बाईक पर घूमाना था।

अधिकारियो ने जानकारी देते हुए बताया की बीती 16 मार्च को फरियादी ऐलम सिंह मेवाड़ा ने पुलिस मे शिकायत दर्ज करते हुए बताया की वो अपनी मां व गर्भवती बहन को अस्पताल दिखाने के लिये रात को करीबन साढे तीन बजे अपनी मोटर साइकल से इन्दौर भोपाल हाइवे से होते हुये जा रहे थे, तभी खजूरी थाना इलाक मे चिरायू अस्पताल से पहले दो लड़को ने ऐलम सिंह को रूकने का इशारा किया तो उसने अपनी मोटर साइकल को धीमा कर दिया तभी एक लड़का मोटर साइकल के सामने आ गया, जिससे अचानक ब्रेक लगाने पर एलम सिंह की मां नीचे गिर गई।

उसके बाद दोनो बदमाशो ने उनके साथ मारपीट की ओर उसकी बाईक छीनकर भाग गये। फरियादी ऐलम सिंह की रिपोर्ट खजूरी पुलिस ने मामला दर्ज करते हुए आरोपियो की सुरागशी के लिये एक टीम गठित की गई। सुरागशी मे जुटी टीम ने घटना स्थल के आस-पास के लोगो से पूछताछ करने के साथ ही फरियादी द्वारा बताये गये हुलिये के साथ ही आसपास लगे सीसीटीव्ही फुटेज चैक गये।

अधिकारियो ने बताया की छानबीन मे जुटी टीम ने घटना स्थल से लेकर इन्दोर तक के करीबन 150 सीसीटीव्ही कैमरो के फुटेज चैक किये। इसके बाद पुलिस को कामयाबी हाथ लगी ओर उन्हे दो संदिग्ध लड़को के फुटेज मिले। फुटेज के आधार पर आगे की छानबीन करने पर जानकारी मिली कि संदेही लडको ने ही लूट की घटना को अंजाम दिया है, ओर वो लड़के कालेज स्टूडेंट है, ओर इन्दौर मे पढ़ते है, तथा शहडोल के रहने वाले है। हाथ लगे सुरागो के आधार पर पुलिस टीम ने घेराबंदी करते हुए संदेही शुभांगन सिंह परिहार उर्फ लक्की पिता यज्ञप्रताप सिंह परिहार उम्र 21 साल नि0 ग्राम रोहनिया थाना सुहागपुर जिला शहडोल,

हाल निवास बाबूलाल पाटीदार का मकान रिंग रोड इन्दौर ओर सुप्रभात सिंह बघेल उर्फ साहिल सिंह बघेल पिता राकेष प्रताप सिंह बघेल उम्र 20 साल नि0 ग्राम कंचनपुरा थाना पनवार जिला रीवाहाल नि0 रिंग रोड इन्दौर को पकड़ कर उनसे सख्ती से पूछताछ की जिसमे उन्होने अपना जुर्म स्वीकार करते हुए घटना का खूलासा कर दीया। आरोपियो से पूछताछ के आधार पर पुलिस टीम ने घटना में लूटी गई मोटर साइकल बरामद कर हैं। अफसरो ने बताया की आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि उन्हे गर्लफ्रेंड को घुमाने के लिये मोटर साइकल की जरुरत थी, इसलिये उन दोनो ने घटना को अंजाम दिया था।