युवक से मोबाइल, नगदी लूटने वाले शातिर लुटेरों को पुलिस ने 24 घण्टे में दबोचा, लूटा गया माल बरामद
August 3, 2019 • Yogesh Sharma

भोपाल। राजधानी के टीटी नगर थाना इलाके मे यूवक के साथ लूटपाट करने वाले तीन बदमाशो को पुलिस ने 24 घंटो मे की गिरफ्तार कर लिया है।

पूरे मामले मे पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बीती रात अर्जुन नगर मे रहने वाले फरियादी अजय चौधरी पिता नेहरू प्रसाद ने थाना पुलिस को शिकायत करते हुए बताया की वो गुरुवार-शूक्रवार की रात करीब गयारह बजे अपने जीजा संजय चौधरी से मिलने राहुल नगर गया था। जब वो उनके पास से वापस लौट रहा था,

इसी दोरान रास्ते मे अनुमान मंदिर के पास स्कूटी सवार तीन यूवक उसके पास आये ओर अपनी गाडी उसके आगे अडाकर उसे रोक लिया। इसके बाद आरोपियो ने उसे धमकाते हुए उसकी जेब मे रखी तीन हजार की नगदी आये और मोबाईल छीन कर फरार हो गये। फरियादी ने पुलिस को बताया की उसने आरोपियो की स्कूटी का नंबर देख लिया था।

अजय की शिकायत पर थाना पुलिस ने अज्ञात आरोपियो के खिलाफ मामला दर्जकर टीम गठित करते हुए घटना के 24 घण्टे के भीतर आरोपियों की सुरागशी जुटाकर उन्हे गिरफ्तार कर वारदात का खुलासा कर दिया। पुलिस ने फरियादी द्वारा बताये गये वाहन नंबरके आधार पर छानबीन करते हुए वारदात को अंजाम देने वाले तीनो आरोपियों महेश धनवारे, नीरज सोनाने व नवनीत मुराने को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बताया की गिरफ्तार किये गये सभी आरोपी आपराधिक प्रवृत्ति के है, जिनके खिलाफ टी टी नगर थाने में मारपीट, हत्या के प्रयास के मामले दर्ज है।

आगे की कार्यवाही मे पुलिस ने गिरफ्तार बदमाशो से पुछताछ के आधार पर आरोपी नीरज सोनोने पिता बालमुकुन्द सोनोने निवासी राहुल नगर कमला नगर के कब्जे से फरियादी से लूटी गई नगदी मे से उसके हिस्से में आये पांच सौ की रूपये नगदी तथा महेष धनवारे पिता हुकुम धनवारे निवासी राहुल नगर से घटना में इस्तेमाल किया गया वाहन जप्त किया गया है, वही तीसरे आरोपी नवनीत मुराने पिता आनन्द मुराने निवासी ग्वाल मोहल्ला रोशनपुरा जहॉगीराबाद के कब्जे से पांच सौ की नगदी रूप्ये जप्त की गई है।

पुलिस ने बताया की गिरफ्तार आरोपी मंहगे शौक के आदि है। जो अपनी जरूरतो को पूरा करने और शौक पूरा करने के लिये कम समय में अधिक पैसा कमाना चाहते है, इसी के चलते वो इस तरह की वारदातो को अंजाम देने की शुरुआत कर रहे थे। बदमाशो ने पू्र्व मे भी रात के समय अकेले यूवक को निशाना बनाकर उसे धमकाते हुए लूट की घटना को अंजाम देने की बात बताई है। वही बदमाश पूर्व में भी अडीबाजी के कई मामलो में गिरफ्तार हो चुके है।