मूल भुत सुविधाओ पर नहीं दिया ध्यान तो लोक सभा चुनाव का करेंगे बहिष्कार
April 20, 2019 • Yogesh Sharma

(बुरहानपुर) चुनाव में भारी पड़ेंगा पानी का मुद्दा
बुरहानपुर। बुरहानपुर में जलसंकट गहरा चुका है अधिकांश वार्डो में आम लोगो को पानी के लिए त्राहि त्राहि करना पड़ रहा है रोज का कामकाज छोड़ लोगपानी की जुगाड़ में लग जाते है, जिस कारण अब वार्डवासियो में आक्रोश है, जिसका असर लोकसभा चुनाव में देखने को मिल सकता है माना जा रहा है कि वार्डो में जलसमस्या होने से भाजपा कांग्रेस पार्षदों की मुश्किलें भी बढ़ गई है,

अपनी अपनी पार्टी के उम्मीदवार के लिए वार्डो में प्रचार करने के लिए पार्षद हिम्मत नही जुटा पा रहे है, क्योंकि पार्षदों को भी मालुम है कि प्रचार के दौरान जनता के आक्रोश का सामना करना पड़ेगा, वही लोगो का भी कहना है कि जलसमस्या का हम लोगो को ही सामना करना पड़ता है, जबाबदार नदारद हो गए है, लोकसभा के लिए प्रचार करने आने वाले सभी नेताओं का विरोध किया जाएगा वही दूसरी ओर जलसंकट के निराकरण की बात करने की बजाय भाजपा कांग्रेस के पार्षद एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगाकर अपनी जबाबदारी से पल्ला झाड़ते नजर आ रहे है,


इन वार्डो में है पानी की समस्या
नगर निगम जिस क्षेत्र में है वाही भीषण जलसंकट से लोग परेशान है, हम बात कर रहे है राजुवार्ड की जहा पर हर साल पानी की समस्या बनी रहती है, हर रोज महिलाये निगम दफ्तर में जाकर अपना विरोध प्रदशन भी करते है लेकिन समस्या का हल नहीं निकलता, वही सिन्धी बस्ती क्षेत्र में भी पानी की समस्या बनी हुई है, लोग अपना कामकाज छोड़ के पानी की पूर्ति में लग जाते है, वार्ड के लोगो ने कहा की छोटी छोटी मुलभुत सुविधा पर किसी ने ध्यान नहीं दिया है, लोक सभा चुनाव का बहिष्कार करेंगे, एसे कई वार्ड है जहा निगम ने बोर तो करा दिए लेकिन कई कई जगह पानी नहीं लगा है, जिससे की पानी की समस्या अभी भी बनी हुई है,


नेताओ को प्रचार में करना होंगा जनता के विरोध का सामना,
पानी की समस्या से लोगो में आक्रोश है वाही लोक सभा चुनाव की प्रक्रिया जारी है, एसे में नेता वोट मांगने के लिए वार्ड वार्ड गली गली जायेंगे तब लोगो का गुस्सा फुट सकता है और नेताओ को जनता के विरोध का सामनाभी करना पड सकता है,
नेताओ से कोई उम्मीद नहीं
सिन्धी बस्ती के लोगो ने कहा की नेताओ से कोई उम्मीद नहीं है, जो छोटी छोटी से मुलभुत सुविधा पर ध्यान नहीं दे रहे है उन से क्या उम्मीद रखे।