भिलाई इस्पात संयंत्र में नवोदय के 7वीं श्रृंखला का हुआ आयोजन
May 30, 2019 • Yogesh Sharma

इस्कॉन बैंगलोर के उपाध्यक्ष दासा ने बताया आध्यात्म से कैसे ला सकते हैं शांति 

भिलाई। इस्कॉन बैंगलोर के वरिष्ठ उपाध्यक्ष और अक्षयपात्र फाउंडेशन के उपाध्यक्ष चंचलापति दासा ने भिलाई निवास के बहुद्देशीय सभागार में नवोदय के 7वीं श्रृंखला में भिलाई बिरादरी को सम्बोधित किया।

श्री दासा ने इस अवसर पर अपने सम्बोधन में आध्यात्म पर कई महत्वपूर्ण बिन्दुओं को साझा किया और इसके बाद उपस्थितों के सवालों के जवाब भी दिये। इस दौरान उन्होंने समझाया कि जब जीवन में कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है, तब कैसे आध्यात्मिकता शांति ला सकती है। 

ज्ञातव्य हो कि भिलाई में स्थित अक्षयपात्र संस्था का शुभारंभ वर्ष 2008 में हुआ था। इस संस्था के द्वारा अंचल के लगभग 22,000 से अधिक स्कूली बच्चों को मध्यान्ह भोजन प्रदान किया जाता है। 

इस अवसर पर भिलाई इस्पात संयंत्र के सीईओ ए के रथ ने अपने स्वागत उद्बोधन देते हुए भिलाई बिरादरी कोचंचलापति दासा के अनुभव से लाभ उठाने का आव्हान किया। इस दौरान सीईओ ए के रथ ने श्री दासा को सम्मानित किया और उन्हें स्मृति चिन्ह भेंट किया।

उल्लेखनीय है कि भिलाई इस्पात संयंत्र ने नवोदय कार्यक्रम के माध्यम से अपने कार्मिकों को बिजनेस, विज्ञान, प्रौद्योगिकी, शिक्षा, कला, आध्यात्मिक और अन्य क्षेत्रों के प्रेरणादायक नेतृत्वकर्ताओं से सीखने के लिए राइजिंग भिलाई 7 एमटी की ओर बैनर तले व्याख्यान की श्रृंखला शुरू की है। 

नवोदय श्रृंखला के 7वें कार्यक्रम में संयंत्र के कार्यपालक निदेशक संका पी के दाश, कार्यपालक निदेशक वित्त एवं लेखा बी पी नायक, कार्यपालक निदेशक खदान एवं रावघाट मानस बिस्वास, निदेशक प्रभारी चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएँ डॉ एस के इस्सर, कार्यपालक निदेशक कार्मिक एवं प्रशासन के के सिंह एवं महाप्रबंधक प्रभारी परियोजनाएँ ए के भट्टा एवं संयंत्र के अन्य अधिकारीगण बड़ी संख्या में उपस्थित थे।