ब्रिटेन की संसद में पर्यावरण कार्यकर्ताओं ने किया अर्धनग्न प्रदर्शन
April 3, 2019 • Yogesh Sharma

वाशिंगटन / ब्रिटेन की संसद में पर्यावरण कार्यकर्ताओं ने अर्धनग्न होकर प्रदर्शन किया। इस तरह का प्रदर्शन संसद में पहली बार हुआ है। प्रदर्शन करने वाले ब्रेक्जिट करार की शर्तों में पर्यावरण में जो परिवर्तन आ रहा था। उस मुद्दे को शामिल नहीं करने से नाराज थे। एक्सटेंशन से रेबेलियन ग्रुप के 11 कार्यकर्ताओं ने संसद की पब्लिक गैलरी में 20 मिनट तक अपना विरोध दर्ज कराया। इसमें महिला एवं पुरुष दोनों ही शामिल थे। कमर के नीचे के अंगवस्त्र को छोड़कर, महिलाओं ने भी  निर्वस्त्र प्रदर्शन किया।

संसद की पब्लिक गैलरी में कांच की दीवार से खड़े इन कार्यकर्ताओं की पीठ सांसदों की ओर थी जिसमें स्लोगन लिखे हुए थे। पुलिस ने उन्हें सार्वजनिक स्थल पर गरिमा भंग करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। ब्रिटेन की संसद में इस तरह का यह पहला प्रदर्शन है।

1978 में घोड़े की लीद फेंकी गई थी

जुलाई 1978 में माल्टा के पूर्व प्रधानमंत्री 2 डोम मिंटाफ की बेटी याना ने होमरूल पर बहस के दौरान गैलरी से सांसदों पर घोड़े की लीद से भरे बैग फेंके थे। यह बैग फट गए थे, और लीद की दुर्गंध संसद में फैल गई थी।

2004 में बैगनी आटा

वैसे तो लोकतंत्र के इतिहास में ब्रिटेन की पार्लियामेंट को मदर आफ पार्लियामेंट का दर्जा प्राप्त है। किंतु समय समय पर इसमें कुछ ऐसा होता रहा है। जो सारी दुनिया में चर्चा का कारण बना।

2004 में फादर्स फार जस्टिस के कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री टोनी ब्लेयर पर बैगनी कलर का आटा फेंका था। प्रदर्शनकारी उस समय तलाकशुदा पिता की बच्चों से मुलाकात के कानून को लचीला बनाने की मांग कर रहे थे। पहली बार संसद के अंदर निर्वस्त्र प्रदर्शन सारी दुनिया में चर्चाओं में आ गया है।