बीजेपी अध्‍यक्ष पर हुआ हमला, टीएमसी पर लगाया आरोप
August 30, 2019 • Yogesh Sharma

कोलकाता। पश्चिम बंगाल बीजेपी अध्‍यक्ष दिलीप घोष पर मॉर्निंग वॉक और चाय पे चर्चा के लिए जा रहे थे।

उसी दौरान तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) समर्थकों की मौजूदगी में भीड़ ने उनको घेर लिया और हमला किया। दिलीप घोष ने इस घटना के लिए टीएमसी समर्थकों पर आरोप लगाते हुए कहा कि उनके साथ मौजूद दो बीजेपी कार्यकर्ता भी इस हमले में घायल हो गए। उल्‍लेखनीय है कि दिलीप घोष पर पहले भी कई बार हमले हो चुके हैं।

इस साल मई में जब वह बीजेपी के वरिष्‍ठ नेता हेमंत बिस्‍व के साथ जा रहे थे तब भी उनके काफिले पर खेजुरी में हमला हुआ था। हालांकि उन्हें कोई नुकसान नहीं हुआ लेकिन दो वाहनों में तोड़फोड़ की गई। इसके बाद सीआरपीएफ मौके पर पहुंची थी लेकिन बीजेपी ने आरोप लगाया कि टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने सड़क पर जाम लगा दिया और सीआरपीएफ को घटनास्थल पर नहीं पहुंचने दिया।

इसी तरह पिछले साल दिसंबर में दिलीप घोष की गाड़ी पर कूचबिहार जिले के सीतलकुची इलाके में अज्ञात लोगों ने हमला किया। तब वह बीजेपी की 'रथयात्रा' में हिस्सा लेने के लिए कूचबिहार में थे। जब वह जिले में मठभांगा जा रहे थे, तब उनकी गाड़ी पर हमला किया गया। हमले के बाद सीतलकुची के सिताई में उन्होंने कहा ''तृणमूल नेताओं ने मेरी कार पर हमला किया और चिल्ला कर मुझे वापस जाने के लिए कहा। हिंसा के दौरान मेरे कुछ पार्टी कार्यकर्ता घायल हो गए। इस पर पुलिस मूकदर्शक बनी रही।''