देश में 42 लाख लोग थाइरॉयड के शिकार
April 3, 2019 • Yogesh Sharma

नई दिल्ली / भारत में रहने वाले करीब 42 लाख लोग थाइरॉयड के शिकार हैं और उन्हें वजन घटाने में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। पीड़ित व्यक्ति थाइरॉयड हॉर्मोन के स्तर में गिरावट की वजह से कैलरी बर्न नहीं कर पाता जिसकी वजह से उसका वजन बढ़ता रहता है। थाइरॉयड से पीड़ित व्यक्ति अगर सही समय पर और सही डायट ले तो वह वजन कम करने में सफल हो सकता है। हालांकि इस दौरान कुछ बातें ध्यान रखने की जरूरत है। सबसे पहले तो यह बेहद जरूरी है कि आप एक संतुलित और हेल्दी डायट लें। चाहे थाइरॉयड का लेवल कम हो या फिर ज्यादा, हेल्दी डाइट को लेकर कोई नरमी नहीं बरती जानी चाहिए। सेलेनियम और आयोडीन की कमी की वजह से शरीर में थाइरॉयड की कार्य प्रणाली बुरी तरह प्रभावित होती है। इसलिए सही डाइट लें ताकि वह कमी पूरी हो जाए। आयोडीन थाइरॉयड हॉर्मोन के प्रॉडक्शन में मदद करता है, जबकि सेलेनियम बॉडी में आयोडीन की रिसाइक्लिंग में मदद करता है। कॉम्प्लैक्स कार्ब्स को भी डायट में शामिल करें क्योंकि ये फाइबर से भरपूर होते हैं और लंबे वक्त तक आपकी भूख को शांत रखते हैं। साबुत अनाज, सब्जियां और दाल जैसे कार्ब्स खाने पर आपको लंबे समय तक पेट भरा-भरा महसूस होगा और इस वजह से आप ओवरईटिंग भी नहीं कर पाएंगे। डाइट में ऐसी चीजें शामिल करें जो सेलेनियम और आयोडीन जैसे जरूरी तत्वों से भरपूर हों, जैसे कि अंडे, सैलमॉन फिश, सूरजमुखी के बीच, सीफूड आदि।