अगस्तावेस्टडलैंड मामले में मिशेल कहा, जांच एजेंसी के सामने नहीं लिया किसी का नाम
April 6, 2019 • Yogesh Sharma

नई दिल्ली / अगस्ता वेस्डलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटला मामले में प्रवर्तन निदेशालय की ओर से क्रिश्चियन मिशेल के खिलाफ अनुपूरक आरोप दायर करने के एक दिन बाद, कथित दलाल मिशेल ने शुक्रवार को दिल्ली की अदालत से कहा कि उसने जांच एजेंसी के खिलाफ किसी का नाम नहीं लिया है। मिशेल ने यह भी आरोप लगाया कि केंद्र सरकार राजनीतिक एजेंडे के लिए एजेंसियों का इस्तेमाल कर रही है। मिशेल के वकील ने दावा किया। कि आरोप पत्र की प्रति मिशेल को देने से पहले मीडिया को दे दी गई। मिशेल की ओर से याचिका दायर करने वाले वकील अल्जो के जोसेफ ने दावा किया, उसने (मिशेल) ने किसी का नाम नहीं लिया।

अपनी याचिका में मिशेल ने सवाल किया कि आरोप पत्र पर अदालत द्वारा संज्ञान लेने से पहले यह मीडिया को कैसे लीक हो गया। मामले पर छह अप्रैल को सुनवाई होगी। इससे पहले एजेंसी ने अपने पूरक आरोपपत्र में कहा था कि जब सौदा हो रहा था तब रक्षा अधिकारियों, नौकरशाहों, मीडियाकर्मियों और सत्तारूढ़ पार्टी के महत्वपूर्ण राजनीतिक व्यक्तियों को रिश्वत का एक हिस्सा दिया गया था। अपनी याचिका में मिशेल ने सवाल किया कि आरोप पत्र पर अदालत द्वारा संज्ञान लेने से पहले यह मीडिया को कैसे लीक हो गया।

मामले पर छह अप्रैल को सुनवाई होगी। उल्लेखनीय है कि गुरूवार को ईडी ने चार्जशीट दाखिल की थी जिसमें एपी का नाम सामने आया था और कहा जा रहा था कि यह एपी गांधी परिवार गांधी परिवार के नजदीकी अहमद पटेल है वहीं आरोपपत्र में किसी मिसेज गांधी का भी जिक्र बताया जा रहा था।